shiv sena bharat ratna: savarkar deserves bharat ratna says shiv sena attack on bjp and pm modi for pranab mukherjee – बीजेपी और पीएम मोदी के ‘प्रणब प्रेम’ पर शिवसेना का तंज, सावरकर को बताया को भारत रत्‍न हकदार

39

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

shiv sena bharat ratna: savarkar deserves bharat ratna says shiv sena attack on bjp and pm modi for pranab mukherjee – बीजेपी और पीएम मोदी के ‘प्रणब प्रेम’ पर शिवसेना का तंज, सावरकर को बताया को भारत रत्‍न हकदार

image
मुंबई
लंबे समय तक कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भारत रत्‍न दिए जाने पर शिवसेना ने बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला है। शिवसेना ने कहा कि हाल के दिनों में प्रणब मुखर्जी के प्रति बीजेपी का प्‍यार बढ़ा है, लेकिन केंद्र में सत्‍ता में रहने के बावजूद बीजेपी या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्‍हें दोबारा राष्‍ट्रपति बनने का अवसर नहीं दिया। शिवसेना ने कहा कि हिंदू राष्ट्र की संकल्पना रखने वाले वीर सावरकर की एक बार फिर उपेक्षा की गई जबकि वह इसके असली हकदार थे।
शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में सोमवार को प्रकाशित संपादकीय में सवाल किया, ‘भारत रत्न सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है। वह इस बार कांग्रेसी परिवेश में तैयार हुए वरिष्ठ नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को दिया गया। हाल के दिनों में मुखर्जी के प्रति बीजेपी का प्यार बढ़ा है। मुखर्जी भारत रत्न थे तो फिर मोदी या बीजेपी ने उन्हें राष्ट्रपति पद के लिए दोबारा मौका क्यों नहीं दिया?’
‘मोदी सरकार ने दोबारा मौका नहीं दिया’
सामना ने कहा, ‘मोदी कहते हैं प्रणब बाबू राजनीति और प्रशासन के मार्गदर्शक, भीष्म पितामह हैं और राष्ट्रपति पद के दौरान उन्होंने हमें संभाला था। फिर इतने महान व्यक्तित्व को मोदी सरकार ने दोबारा मौका दिया होता तो यह चुनाव निर्विरोध हुआ होता। प्रणब मुखर्जी जब पहली बार राष्ट्रपति पद के लिए खड़े हुए थे, तब बीजेपी ने कांग्रेसवाले के रूप में उनका विरोध किया था और उनके खिलाफ अपना उम्मीदवार मैदान में उतारा था।’
शिवसेना ने कहा, ‘मुखर्जी की जिस योग्यता का गुणगान अब मोदी सरकार कर रही है, उसी योग्यता का ख्‍याल रखते हुए शिवसेना ने मुखर्जी को उस समय समर्थन दिया था और बीजेपी ने इसके लिए हमारे खिलाफ कोहराम मचाया था। यह हुआ पहली बार का। दूसरी बार उसी महान योग्यता के स्थान पर रामनाथ कोविंद की नियुक्ति हुई। तब नकारे गए मुखर्जी आज मोदी राज में भारत रत्न ठहराए गए, इसकी हमें खुशी है। मतलब राष्ट्रपति पद के लिए मुखर्जी को शिवसेना का दिया गया समर्थन योग्य था और उस पर अब बीजेपी ने भी मुहर लगा दी है।’
‘ सावरकर को भारत रत्न क्यों नहीं?’
पार्टी ने वीर सावरकर को भारत रत्‍न नहीं देने पर बीजेपी और पीएम मोदी की कड़ी आलोचना की। शिवसेना ने सरकार से सवाल किया, ‘बार-बार मांग होने और जनभावना तीव्र होने के बावजूद स्वतंत्रता सेनानी सावरकर को भारत रत्न का सम्मान क्यों नहीं मिल सका? वीर सावरकर में ऐसी क्या कमी दिखाई दी कि मोदी सरकार उनका सम्मान नहीं कर सकी?’
सामना ने कहा, ‘हिंदू राष्ट्र की संकल्पना रखनेवाले तथा स्वतंत्रता संग्राम के दौरान महान त्याग करनेवाले वीर सावरकर का कांग्रेसी शासन में उपेक्षा और अपमान हुआ लेकिन मोदी सरकार ने उस अपमान का बदला लेने के लिए क्या किया? विरोधी दल में रहते समय बीजेपी के लोग वीर सावरकर को भारत रत्न मिले, ऐसी मांग करते थे लेकिन मोदी सरकार के कार्यकाल में अयोध्या में राम मंदिर नहीं बना और वीर सावरकर को भारत रत्न भी नहीं मिला, यह दुर्भाग्य है।’
पीएम मोदी पर साधा निशाना
शिवसेना ने पीएम मोदी पर भी हमला बोला। पार्टी ने कहा, ‘दिसंबर के आखिरी सप्ताह में प्रधानमंत्री मोदी अंडमान गए थे। वीर सावरकर ने जिस काल कोठरी में कालेपानी के दौरान दो आजीवन कारावास भोगा था, उस कोठरी में कुछ समय के लिए आंख मूंदकर बैठे और चिंतन किया था। वह चिंतन अंडमान के सागर में बह गया। सारे पद्म, रत्न पुरस्कारों का अभिनंदन, लेकिन वीर सावरकर फिर से अभागे ठहराए गए यह वेदना है ही।’

2019-02-03 05:06:01

Images are for reference only.Images gathered automatic from google.All rights on the images are with their original owners.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy