kundli manesar palwal expressway will be inaugurated today by PM Modi | मोदी ने कुंडली-पलवल एक्सप्रेसवे की शुरुआत की, 14 साल के इंतजार के बाद तैयार हुआ

55

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

kundli manesar palwal expressway will be inaugurated today by PM Modi | मोदी ने कुंडली-पलवल एक्सप्रेसवे की शुरुआत की, 14 साल के इंतजार के बाद तैयार हुआ

kundli manesar palwal expressway will be inaugurated today by PM Modi | मोदी ने कुंडली-पलवल एक्सप्रेसवे की शुरुआत की, 14 साल के इंतजार के बाद तैयार हुआ
2018-11-28 11:04:05

मोदी ने कहा- आज हरियाणा को तीन बड़े प्रोजेक्ट की सौगात मिली
प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले की सरकार के काम के तरीके से एक्सप्रेसवे में देरी हुई 
इस एक्सप्रेसवे पर कार की स्पीड 120 किलोमीटर प्रति घंटा रखनी होगी

Dainik BhaskarNov 19, 2018, 03:18 PM IST

सोनीपत/बहादुरगढ़. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गुड़गांव के सुल्तानपुर में 14 साल के इंतजार के बाद तैयार हुए कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे का उद्धाटन किया। इसके बाद वे मुजेसर से बल्लभगढ़ तक मेट्रो लाइन की शुरुआत भी की। इस मौके पर उन्होंने लद्दाख में 56 साल पहले लड़ी गई लड़ाई का जिक्र किया। जिसका नेतृत्व हरियाणा के मेजर सैतान सिंह ने किया था। मोदी ने कहा कि हरियाणा का मतलब होता है हिम्मत, हौसला और हमसफर।

 

मोदी ने कहा, ”आज हरियाणा को 3 हजार 300 करोड़ से ज्यादा की सौगात मिली है। 135 किलोमीटर का यह एक्सप्रेस वे पूरा हो गया। आज इसके दूसरे चरण का शुभारंभ हुआ। इस एक्सप्रेसवे पर 12 साल से काम चल रहा था। इसे 8-9 साल पहले ही मिल जाना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। पहले की सरकारों के जो तौर-तरीके थे। उससे काम पूरा होने में देरी हुई। इस एक्सप्रेस वे का इस्तेमाल कॉमनवेल्थ गेम में होना था, लेकिन कॉमनवेल्थ गेम की जो गति की गई वही कहानी इस एक्सप्रेसवे की भी बन गई।”

 

पिछली सरकार ने इस प्रोजेक्ट में पैसे बर्बाद किए

प्रधानमंत्री ने कहा, ”जब इसकी बैठक हुई थी तो मैंने देखा इसमें कितने पेंच फंसे हुए थे। आज यह दिन आया। बरसों का इंतजार खत्म हो गया। अटकाने, लटकाने वाली संस्कृति ने हरियाणा, एनसीआर और दिल्ली का कितना बड़ा नुकसान किया है। पिछली सरकारों में इस पर जो काम हुआ वह केस स्टडी है कि जनता के पैसों को कैसे बर्बाद किया जाता है। तब तय हुआ था कि इस पर 1200 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे, आज इसकी लागत तीन गुना से ज्यादा हो गई। यह वक्त इसे पूरा कर लिया गया होता तो आज दिल्ली में ट्रैफिक की व्यवस्था कुछ और होती।”

 

135 किलोमीटर लंबा है एक्सप्रेसवे

पलवल से लेकर कुंडली तक केएमपी की कुल दूरी 135 किलोमीटर है। इसमें मानेसर से पलवल तक 52 किलोमीटर तक सड़क का निर्माण कार्य पहले ही पूरा हो गया था। मानेसर से कुंडली तक 83 किलोमीटर के निर्माण कार्य भी पूरा कर लिया है। केएमपी पर कुल 117 अंडरपास बनाए हैं। 4 आरओबी का काम पूरा कर लिया है। केएमपी पर 7 टोल प्लॉजा बनाए हैं, जहां केजीपी की तर्ज पर एक्जिट पॉइंट पर टोल वसूला जाएगा।

 

2004 में हुआ था शिलान्यास

केएमपी का शिलान्यास दिसंबर 2004 को तत्कालीन सीएम ओमप्रकाश चौटाला ने स्व. देवीलाल के नाम से बढ़खालसा के पास किया था। इसके बाद से यह प्रोजेक्ट खटाई में पड़ा था। प्रदेश में 10 साल तक कांग्रेस का शासन रहा, लेकिन इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू नहीं हुआ। 5 नवंबर 2015 को प्रधानमंत्री मोदी ने सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट का दोबारा से शिलान्यास किया था।

Images are for reference only.Images gathered automatic from google.All rights on the images are with their original owners.



kundli manesar palwal expressway will be inaugurated today by PM Modi | मोदी ने कुंडली-पलवल एक्सप्रेसवे की शुरुआत की, 14 साल के इंतजार के बाद तैयार हुआ
2018-11-28 11:04:05

Images are for reference only.Images gathered automatic from google.All rights on the images are with their original owners.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy